कार में लगाया परफ्यूम, लाइटर जलाते ही लपटों में घिरा

0
336
BAILY ROAD ME CHALTI HUYEE CAR ME LAGI AAG

फरीदाबाद (ममता चौधरी)। चलती कार में परफ्यूम लगाने के बाद बिजनसमैन ने जैसे ही लाइटर जलाया, उनके कपड़ों में आग लग गई। इसके बाद कार नियंत्रण से बाहर होकर डिवाइडर पर लगे पोल से टकरा गई। यह घटना गुरुवार दोपहर सूरजकुंड में हुई। गुड़गांव निवासी इस व्यापारी को सेक्टर-21ए स्थित एशियन अस्पताल में भर्ती कराया गया। घटना की जानकारी मिलने उनके परिजन गुड़गांव से फरीदाबाद आए। पुलिस के मुताबिक, गुड़गांव सेक्टर-57 में रहने वाले राजेश खन्ना मुंबई स्थित एक साबुन की फैक्ट्री में मैनेजर हैं, साथ ही इनका अपना बिजनस भी है।

गुरुवार को राजेश सूरजकुंड स्थित होटल राजहंस आए थे। दोपहर में यहां से लौटने के दौरान उन्होंने कार में बैठे-बैठे परफ्यूम लगाया। इसके बाद वह ड्राइव करने लगे। इस दौरान उन्होंने चलती कार में सिगरेट सुलगाने के लिए लाइटर जलाया। लाइटर के जलते ही धमाके के साथ कार में आग लग गई और राजेश लपटों में घिर गए। कार की सीट भी जलने लगी। उनकी कार असंतुलित होकर डिवाइडर पर लगे पोल से जा टकराई। गनीमत रही कि कार का सेंट्रल लॉक ऑन नहीं था, जिसके चलते वह तुरंत ही बाहर आ गए।

इस बीच कार से धुआं उठने और टक्कर की आवाज सुनकर वहां लोग पहुंच गए। सूरजकुंड थाने की पुलिस मौके पर पहुंच गई। एएसआई ब्रह्मप्रकाश ने अपने साथी पुलिसकर्मियों की मदद से पीसीआर वैन में रखे आग बुझाने वाले सिलिंडर से आग पर काबू पाया। साथ ही राजेश के कपड़े उतारकर उन्हें पुलिस की गाड़ी से एशियन अस्पताल पहुंचाया। एएसआई ब्रह्मप्रकाश के मुताबिक, डॉक्टरों ने बताया है कि राजेश खन्ना 60 फीसदी जल गए हैं और उनका इलाज चल रहा है।

स्किन स्पेशलिस्ट डॉ. रुचिका मिगलानी ने बताया, ‘कार में परफ्यूम आग लगने का कारण बन सकता है। अधिकतर परफ्यूम में अल्कोहल या फिर ऐसे केमिकल का इस्तेमाल होता है, जो ज्वलनशील होते हैं। अगर इन्हें कहीं स्प्रे किया गया है और आसपास आग है तो इसमें आसानी से आग लग सकती है। कार में परफ्यूम का इस्तेमाल करने में सावधानी बरतनी चाहिए।’

बरतें सावधानी-
• कार में स्प्रे का इस्तेमाल ना ही करें तो बेहतर होगा
• कार में परफ्यूम या फिर और कोई अन्य स्प्रे करते हैं तो खिड़की खोल लें
• स्प्रे का इस्तेमाल करने के दौरान कार का एसी न चलाएं
• अगर कार में स्प्रे किया है तो तुरंत माचिस व लाइटर का इस्तेमाल बिल्कुल न करें
• कार को स्टार्ट करने व करीब 5 मिनट चलने के बाद ही एसी स्टार्ट करें

LEAVE A REPLY