प्रभात जत्था का हुआ नगर कीर्तन से समागम

0
252
फरीदाबाद 1 अप्रैल। प्रभाती जत्था 2ई ब्लाक द्वारा 2 ई ब्लाक स्थित पार्क में तीन दिन का समागम का रविवार को तीसरे दिन बोले सी निहाल सत श्री अकाल के उदघोष से हुआ। तीसने दिन अमृतसर से भाई राय सिंह देहरादून से भाई जोगिन्दर सिंह व अबोहर से भाई गुरदीप सिंह ने संगत को कीर्तन द्वारा निहाल किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि हम सभी को समाज के उत्थान में अपनी अहम भागीदारी निभानी चाहिए। उन्होंने कहा कि समाज अगर मजबूत होगा तो हम भी मजबूत होंगे।
  इस अवसर पर भाटिया सेवक समाज के प्रधान स. मोहन सिंह भाटिया सहित क्षेत्र के गणमान्य लोगों ने हिस्सा लिया। स. मोहन ङ्क्षसह भाटिया ने कहा कि इस कीर्तन में आने वाले सभी श्रृद्धालुगणों का हम आभार जताते है और उन्होने इस शब्द कीर्तन को अधिक से अधिक संख्या में आकर सुना उसके लिए आयोजको की तरफ से मैं सभी का धन्यवाद जताता हूं। स. मोहन सिंह भाटिया ने कहा कि समाज की एकता का एक नजारा इस 2ई पार्क में आज जो देखने को मिला है उससे मुझे काफी खुशी हुई है और यह खुशी सदैव बनी रहे यही मेरी दुआ रहेगी। आप सभी का दिल से आभार।
इस नगर कीर्तन के आयोजन में विशेष सहयोग करने वाले गुरूशरण भाटिया, योगेश भाटिया, प्रीतम सिंह, मोहन लाल, अनिल, जनक, ताई, राकेश ने बताया कि यह कीर्तन 31 से 3 अप्रैल तक आयोजित किया गया।  जिसमें भारतवर्ष से विभिन्न जत्थे रोजाना आयी हुई संगत को अपने अपने सम्बोधन से निहाल करेंगे। उन्होंने कहा कि रोजाना लंगर का भी आयोजन किया जा रहा है ताकि संगत प्रसाद ग्रहण कर सके। गुरूशरण व योगेश भाटिया ने बताया कि यह शब्द कीर्तन गुरू गोबिन्द सिंह जी के 350वें प्रकोशोत्सव को लेकर किया जा रहा है जिसमें समस्त साध संगत बढ़चढ़ कर हिस्सा लें।

LEAVE A REPLY