अमरनाथ यात्रा खत्‍म होने के बाद कश्‍मीर में आतंक रोधी अभियान तेज करेंगे सुरक्षाबल : गृह मंत्रालय

0
179

नई दिल्‍ली: घाटी में हिंसा ख़त्म होने का नाम नहीं ले रही है. अब केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने अपनी रणनीति घाटी को लेकर बदली है. सुरक्षा बलों को अब ऑपरेशन तेज़ करने की हिदायत दी गई है. वैसे बुधवार को बारामूला में सेना के काफ़िले पर हमला हुआ.

केंद्रीय गृह मंत्रालय का कहना है की इस साल घाटी में सुरक्षा बलों पर हमले भी बढ़े हैं और सीमा पार से घुसपैठ भी. सेना बेशक इस बात से इंकार कर रही हो लेकिन इस साल क़रीब 90 आतंकवादी सीमा से इस पार आ चुके हैं. उन्होंने घाटी के अलग-अलग इलाक़ों में अड्डा बना लिया है और एक-एक कर हमले कर रहे हैं.

जानकारी के मुताबिक़ नौहट्टा और पंपोर में हुए हमलों की जांच में ये बात सामने आई है कि हमलावर हाल के घुसपैठिए थे. ऊरी में भी 5 आतंकवादी मारे गए. यानी पाकिस्तान की ओर से ज़्यादा से ज़्यादा घुसपैठिए भारत में धकेलने की कोशिश जारी है.

पीएमओ में राज्‍यमंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा, “ये हिंसा पाकिस्तान की ओर से भारत में धकेली जा रही है सरकार चाहती है कि ये हिंसा का दौर ख़त्म हो, इसके लिए स्ट्रैटेजी के तहत काम हो रहा है.” उधर केंद्र सरकार ने राज्य सरकार को आतंकवादियों का डट कर सामना करने की हिदायत दी है.


नए दिशानिर्देशों के तहत अमरनाथ यात्रा के ख़त्म होने के बाद सुरक्षा बलों से कहा गया है कि वो अब आतंकवाद विरोधी अभियान तेज़ करें. यात्रा के चलते घाटी में सुरक्षा बल सुरक्षात्मक थे. गृह मंत्रालय के मुताबिक बीते दिनों पुलिस बल भी क़ानून व्यवस्था में लगा हुआ था. अब उन्हें भी नई नीति के तहत आतंकवाद विरोधी अभियान को ज़िंदा करने को कहा गया है.

LEAVE A REPLY